बी. एन. सुरेश  

बी. एन. सुरेश
पूरा नाम बी. एन. सुरेश
जन्म 12 नवम्बर, 1943
कर्म भूमि भारत
कर्म-क्षेत्र भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम
शिक्षा इंजीनियरिंग, मैसूर विश्वविद्यालय

स्नातकोत्तर, आईआईटी, चेन्नई

पुरस्कार-उपाधि पद्म श्री, 2002

पद्म भूषण, 2013

प्रसिद्धि अंतरिक्ष वैज्ञानिक
नागरिकता भारतीय
अन्य जानकारी वर्ष 2006 में बी. एन. सुरेश को बाहरी अंतरिक्ष के शांतिपूर्ण उपयोग से संबंधित प्रतिष्ठित संयुक्त राष्ट्र वैज्ञानिक और तकनीकी उपसमिति की अध्यक्षता करने के लिए चुना गया था।
अद्यतन‎
बी. एन. सुरेश (अंग्रेज़ी: Byrana Nagappa Suresh, जन्म- 12 नवम्बर, 1943) भारत के प्रसिद्ध अंतरिक्ष वैज्ञानिक हैं। उन्होंने लॉन्च वाहन डिजाइन, एयरोस्पेस नेविगेशन, नियंत्रण और एक्चुएशन सिस्टम, वाहन इलेक्ट्रॉनिक्स, मॉडलिंग और सिमुलेशन के क्षेत्र में अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी में उपलब्धियां हासिल की हैं। लगभग चार दशकों के भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन में अपने करियर के दौरान बी. एन. सुरेश को अंतरिक्ष कार्यक्रम में भाग लेने और आकार देने के साथ-साथ इसे महत्वपूर्ण पदों से मार्गदर्शन करने के पर्याप्त अवसर मिले।

परिचय

डॉ. बी. एन. सुरेश ने 2003 से 2007 की अवधि के लिए प्रक्षेपण यान विकास में इसरो के प्रमुख केंद्र, विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र (वीएसएससी) के निदेशक के पद पर सराहनीय कार्य किया है। वह इसरो द्वारा स्थापित प्रतिष्ठित भारतीय अंतरिक्ष विज्ञान और प्रौद्योगिकी संस्थान के संस्थापक निदेशक भी थे। डॉ. बी. एन. सुरेश ने 1963 में विज्ञान में और 1967 में मैसूर विश्वविद्यालय से इंजीनियरिंग में डिग्री ली। बाद में उन्होंने 1969 में आईआईटी चेन्नई से स्नातकोत्तर की डिग्री ली।[1]

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 1.0 1.1 1.2 पूर्व निदेशक (हिंदी) vssc.gov.in। अभिगमन तिथि: 25 दिसम्बर, 2021।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://amp.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=बी._एन._सुरेश&oldid=671544" से लिया गया