संघमित्रा बंदोपाध्याय  

संघमित्रा बंदोपाध्याय

संघमित्रा बंदोपाध्याय (अंग्रेज़ी: Sanghamitra Bandyopadhyay, जन्म- 1968, कोलकाता, पश्चिम बंगाल) भारतीय कंप्यूटर वैज्ञानिक हैं जो कम्प्यूटेशनल जीव विज्ञान में विशेषज्ञता रखती हैं। वह भारतीय सांख्यिकी संस्थान, कोलकाता में एक प्रोफेसर हैं। साल 2010 के लिए इंजीनियरिंग विज्ञान में 'शांति स्वरूप भटनागर पुरस्कार' की वह विजेता हैं।

  • संघमित्रा बंद्योपाध्याय का जन्म 1968 को कोलकाता में हुआ था।
  • उन्होंने प्रेसीडेंसी कॉलेज, कोलकाता से भौतिकी में स्नातक की उपाधि प्राप्त की है। वर्ष 1992 में कलकत्ता विश्वविद्यालय के राजाबाजार साइंस कॉलेज परिसर से कंप्यूटर विज्ञान में प्रौद्योगिकी में स्नातक की डिग्री प्राप्त की। इसके बाद साल 1998 में कंप्यूटर विज्ञान में मास्टर डिग्री भी हासिल की। फिर भारतीय सांख्यिकी संस्थान, खड़गपुर से पीएचडी की।
  • संघमित्रा बंदोपाध्याय इंजीनियरिंग और कंप्यूटर विज्ञान श्रेणी में इंफोसिस पुरस्कार, 2017 की विजेता हैं।
  • उनका शोध मुख्य रूप से विकासवादी गणना, पैटर्न मान्यता, मशीन सीखने और जैव सूचना विज्ञान के क्षेत्रों में है।
  • भारत सरकार द्वारा संघमित्रा बंदोपाध्याय को 2022 में तीसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म श्री से सम्मानित किया गया है।
  • 1 अगस्त, 2015 से संघमित्रा बंदोपाध्याय 'भारतीय सांख्यिकी संस्थान' की निदेशक रही हैं और कई अन्य सांख्यिकीय गुणवत्ता नियंत्रण और संचालन के अलावा कोलकाता, बैंगलोर, दिल्ली, चेन्नई और तेजपुर में स्थित भारतीय सांख्यिकी संस्थान के सभी पांच केंद्रों के कामकाज की देखरेख करती हैं।
  • वह भारतीय सांख्यिकी संस्थान की पहली महिला निदेशक हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://amp.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=संघमित्रा_बंदोपाध्याय&oldid=673537" से लिया गया