पटना  

पटना
विवरण पटना बिहार राज्य की राजधानी है। पटना भारत के गौरवयुक्त शहरों में से एक है और पटना अपनी ऐतिहासिक इमारतों के लिए भी प्रसिद्ध है।
राज्य बिहार
ज़िला पटना ज़िला
स्थापना 444-460 ई. पू. में अजातशत्रु द्वारा स्थापित
भौगोलिक स्थिति उत्तर- 25° 35' - पूर्व -85° 12'
मार्ग स्थिति यह शहर सड़क द्वारा वैशाली से 56 किमी, पावापुरी से 90 किमी, नालंदा से 95 किमी, राजगीर से 110 किलोमीटर, गया से 120 किलोमीटर, बोधगया से 135 किलोमीटर, सासाराम से 152 किलोमीटर और दिल्ली से 997 किलोमीटर दूरी पर स्थित है।
कब जाएँ अक्‍टूबर से मार्च
कैसे पहुँचें हवाई जहाज़, रेल, बस
जयप्रकाश नारायण हवाई अड्डा
पटना जंक्शन
गांधी मैदान बस स्टेंड, मीथापुर बस स्टेंड
ऑटो रिक्शा, साईकिल रिक्शा, टैक्सी, मिनी बस
क्या देखें पटना पर्यटन
एस.टी.डी. कोड 612
ए.टी.एम लगभग सभी
गूगल का मानचित्र, जयप्रकाश नारायण हवाई अड्डा
पटना पटना पर्यटन पटना ज़िला

पटना बिहार राज्य की राजधानी एवं भारत के गौरवयुक्त शहरों में से एक है। आधुनिक पटना दुनिया के गिने-चुने उन विशेष प्रचीन नगरों में से एक है जो अति प्राचीन काल से आज तक आबाद है। इस शहर को ऐतिहासिक इमारतों के लिए भी जाना जाता है। चूँकि पटना से वैशाली, राजगीर, नालंदा, बोधगया और पावापुरी के लिए मार्ग जाता है, इसलिए यह शहर बौद्ध और जैन धर्मावलंबियों के लिए 'गेटवे' के रूप में भी जाना जाता है। [1]

महात्मा गाँधी सेतु, पटना
Mahatma Gandhi Setu, Patna

पटना एक ओर जहाँ शक्तिशाली राजवंशों के लिए जाना जाता है। वहीं दूसरी ओर ज्ञान और अध्‍यात्‍म के कारण भी यह काफ़ी लोकप्रिय रहा है। वर्तमान में बिहार राज्य की राजधानी पटना को कालक्रम में पाटलिपुत्र, कुसुमपुर, पुष्पपुर, पाटलिग्राम, आजीमाबाद आदि नामों से पुकारा गया था। [2] फिर यह नगर पटना कहलाने लगा और धीरे-धीरे बिहार का सबसे बड़ा नगर बन गया।

स्थापना

पाटलिपुत्र की स्थापना 5वीं शताब्दी ई.पू. में मगध (दक्षिण बिहार) के राजा अजातशत्रु ने की थी।

स्थिति

प्राचीन पाटलिपुत्र शहर, बिहार राज्य की राजधानी, पूर्वोत्तर भारत। यह कोलकाता (भूतपूर्व कलकत्ता) से लगभग 470 किलोमीटर पश्चिमोत्तर में स्थित है। पटना भारत के प्राचीनतम नगरों में से एक है। इसके प्राचीन संस्कृत नाम पाटलिपुत्र, कुसुमपुर और पुष्पपुर हैं। मुग़ल काल में यह अज़ीमाबाद के नाम से विख्यात था। पटना नदी के तट पर स्थित शहर है, जो गंगा नदी के दक्षिण किनारे पर लगभग 19 किलोमीटर तक फैला हुआ है।

धार्मिक मान्यता

पटना बिहार राज्य का प्रसिद्ध पर्यटन एवं धार्मिक स्थल है। यह मुख्यतः सिख तीर्थ है। गुरुगोविंद सिंह की दो जोड़ी चरण पादुकायें यहाँ सुरक्षित हैं।

छोटी पटनदेवी मंदिर— यह मंदिर हरि मंदिर से दक्षिण गली में है। इसमें महाकाली, महालक्ष्मी, महासरस्वती की मूर्तियाँ हैं। यह मंदिर पटनदेवी चौक से तीन मील पश्चिम महाराजगंज में है। यह 51 शक्तिपीठों में एक से है। यहाँ सती का दाहिना जंघा गिरा था। इसके समीप में बिरला जी का बनवाया हुआ सत्यनारायण मंदिर है। पटना में जैनों के 5 मंदिर और चैत्यालय हैं। पटना स्टेशन के पास टेकरी पर सेठ सुदर्शन का मोक्षस्थान है। वहाँ उनकी चरणपादुकायें हैं।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. पटना (हिन्दी) यात्रा सलाह। अभिगमन तिथि: 15 जून, 2010।
  2. पटना: अब वो बात कहां (हिन्दी) भारतीय पक्ष। अभिगमन तिथि: 15 जून, 2010।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://amp.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=पटना&oldid=595434" से लिया गया