अन्तरराष्ट्रीय समान वेतन दिवस  

अन्तरराष्ट्रीय समान वेतन दिवस
तिथि 18 सितम्बर
शुरुआत 2020 से
उद्देश्य समान मूल्य के काम के लिए समान वेतन प्राप्त करना और महिलाओं व लड़कियों के खिलाफ सभी भेदभाव समाप्त करना।
अन्य जानकारी संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 15 नवंबर, 2019 को अपने 74वें सत्र में तीसरी समिति ने 18 सितंबर को 'अंतर्राष्ट्रीय समान वेतन दिवस' के रूप में घोषित करते हुए[1] प्रस्ताव को अपनाया था। यह प्रस्ताव कुल 105 सदस्य राज्यों द्वारा सह-प्रायोजित था।
अद्यतन‎
अन्तरराष्ट्रीय समान वेतन दिवस (अंग्रेज़ी: International Equal Pay Day) प्रत्येक वर्ष 18 सितंबर को मनाया जाता है। इस दिन का उद्घाटन संस्करण वर्ष 2020 में मनाया गया। अन्तरराष्ट्रीय समान वेतन दिवस का उद्देश्य समान मूल्य के काम के लिए समान वेतन प्राप्त करना और महिलाओं व लड़कियों के खिलाफ भेदभाव सहित सभी प्रकार के भेदभाव के खिलाफ दीवारों को तोड़ना है।

इतिहास

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 15 नवंबर, 2019 को '18 सितंबर' को अन्तरराष्ट्रीय समान वेतन दिवस के रूप में मनाने के लिए एक प्रस्ताव अपनाया, जिसे 'समान वेतन अन्तरराष्ट्रीय गठबंधन'[2] द्वारा पेश किया गया था। प्रस्ताव को कुल 105 सदस्य देशों द्वारा सह-प्रायोजित किया गया। साथ ही श्रमिकों और नियोक्ताओं के संगठनों और व्यवसायों के योगदान को मान्यता देते हुए, संकल्प ने समान वेतन प्राप्त करने के लिए ईपीआईसी के कार्य और योगदान को भी स्वीकार किया।[3]

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. A/C37/74/L.49
  2. Equal Pay International Coalition - EPIC
  3. अन्तरराष्ट्रीय समान वेतन दिवस (हिंदी) hindicurrentaffairs.adda247.com। अभिगमन तिथि: 20 सितम्बर, 2021।
  4. अंतरराष्‍ट्रीय समान वेतन दिवस क्यों मनाया जाता है (हिंदी) hindi.webdunia.com। अभिगमन तिथि: 20 सितम्बर, 2021।
  5. आखिर क्यों मनाया जाता है यह दिवस (हिंदी) etvbharat.com। अभिगमन तिथि: 20 सितम्बर, 2021।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://amp.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=अन्तरराष्ट्रीय_समान_वेतन_दिवस&oldid=667972" से लिया गया