याओशंग  

याओशंग (अंग्रेज़ी: Yaoshang) फाल्गुन माह की पूर्णिमा (फ़रवरी/मार्च) से शुरू होने वाला पांच दिवसीय मणिपुर का प्रमुख त्योहार है। इस त्योहार में थबल चोंगबा नृत्य प्रस्तुत किया जाता है। थबल चोंगबा एक मणिपुरी लोक नृत्य है जिसमें लड़के और लड़कियां हाथ पकड़कर नृत्य करते हैं और सभी लोग उस नृत्य का आनंद लेते हैं। नृत्य के दौरान पुरुष महिलाओं को पैसे भी देते हैं।

  • इसे 'मणिपुर की होली' भी कहा जाता है। यह स्वदेशी संगीत और नृत्य के साथ मनाया जाता है।
  • इस त्योहार में हिंदू मान्यताओं और मैतेई प्रथाओं का मणिकांचन संयोग देखने को मिलता है।
  • थबल चोंगबा लोक नृत्य इस उत्सव का एक महत्वपूर्ण आकर्षण है जिसका प्रदर्शन रात्रि में किया जाता है।
  • मणिपुरी पुरुष और महिलाएं स्थानीय लोक गीत गाते हैं और ढोलक की थाप पर नाचते हैं। वे पारंपरिक मणिपुरी वेशभूषा पहनकर नृत्य करते हैं।
  • मणिपुरी अवधारणा के अनुसार नृत्य भी ईश्वर की उपासना का एक रूप है। इस अवसर पर पुरुषों के लिए फिजोम (धोती) और महिलाओं के लिए फनक (स्कर्ट) परिधान निर्धारित है।[1]
  • पुरुष और महिला एक-दूसरे के हाथ पकडकर नृत्य करते हैं। त्योहार में युवा और बूढ़े सभी लोग घर-घर जाकर चंदा इकट्ठा करते हैं और इकट्ठा किए गए धन से भोज और पार्टी करते हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. मणिपुर के पर्व–त्योहार (हिंदी) apnimaati.com। अभिगमन तिथि: 28 सितम्बर, 2021।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://amp.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=याओशंग&oldid=668346" से लिया गया