चारी प्रथा  

चारी प्रथा खेराड़ क्षेत्र (भीलवाड़ा-टोंक) राजस्थान में प्रचलित थी। इस प्रथा में लड़की के माता-पिता वर पक्ष से कन्या मूल्य लेते हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://amp.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=चारी_प्रथा&oldid=662995" से लिया गया